रामलला का दर्शन करने‌ को बेताब भक्तों का सैलाब,कतार में लाखों भक्त,भारी भीड़ से सभी वाहनों की एंट्री पर रोक

0
140

अयोध्या, 24 लखनऊ । सूर्यवंश की राजधानी अयोध्या में इस समर ऐसा माहौल है जैसे दिवाली और छठ पर्व पर होता है।ये रामलला की लहर है,जिससे इस समय पूरा देश सराबोर है। सभी की जुबान पर बस एक ही नाम है जय श्री राम।रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद राम मंदिर मंगलवार से भक्तों के लिए खुल गया है।आज दर्शन का दूसरा दिन है।सुबह की मंगला आरती और भोग के बाद सुबह 7 बजे से भक्त अपने रामलला का दर्शन कर रहे हैं।रामलला के दर्शन के लिए राम मंदिर के बाहर लाखों की संख्या में भक्त मौजूद हैं जो रामलला की एक झलक पाने के लिए बेताब है।भारी भीड़ को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद एक्शन में आ गए हैं। सीएम ने अफसरों के साथ मीटिंग के बाद राम भक्तों को अच्छे से दर्शन हों इसका पूरा एक्शन प्लान तैयार कर लिया है।

अयोध्या में आई राम लहर की सुनामी

रामनगरी अयोध्या में राम लहर की सुनामी आ गई है।राम नगरी रामभक्तों से पूरी तरह खचाखच भरी है।हर तरफ राम भक्त ही दिख रहे हैं।रामभक्तों की भारी भीड़ को देखते हुए रामनगरी में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। साथ ही दूसरे शहरों से आने वाली बसों को रोक दिया गया है।सीएम योगी से लेकर अफसर तक भक्तों से शांति और धैर्य की अपील कर रहे हैं।सीएम ने खुद रामभक्तों को दर्शन कराने के लिए मोर्चा संभाल लिया है। सीएम रामनगरी के पल-पल का अपडेट ले रहे हैं। मंगलवार को हवाई सर्वे के बाद सीएम खुद राम मंदिर पहुंचे और हालात का जायजा लिया।

पहले दिन 5 लाख भक्तों ने किया रामलला का दर्शन

आज रामलला के दर्शन का दूसरा दिन है।राम मंदिर के बाहर रात से ही भक्तों की भीड़ है। मंगलवार को पहले दिन लगभग 5 लाख से अधिक रामभक्तों ने रामलला का दर्शन किया, लेकिन अभी भी लाखों रामभक्त रामलला के इंतजार में है। रामभक्तों की एक ही आशा है कि किसी भी तरह रामलला का दर्शन हो जाएं।रामभक्त पूरी तैयारी के साथ रामनगरी पहुंचे हैं। वो एक हफ्ते तक इंतजार करने को तैयार हैं। इस बीच रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने रामभक्तों से अपील की है कि वो थोड़ा संयम बरतें रामलला का दर्शन सबको मिलेगा।

दर्शन के लिए कतार में लगे राम भक्त

रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के बाद रामनगरी में रामभक्तों की भारी भीड़ को देखते हुए अयोध्या जिले के आसपास के जिलों से गाड़ियों को आने से रोक दिया गया है। इसमें लखनऊ से अयोध्या के लिए रोडवेज सेवा रोकी गई,बाराबंकी से बसों की आवाजाही रोक दी गई,ऑनलाइन बुकिंग को कैसिंल किया जा रहा है।प्राइवेट गाड़ियों को हाईवे पर ही रोका जा रहा है

सीएम योगी ने किया हवाई सर्वे

रामनगरी में रामभक्तों की भीड़ इतनी ज्यादा है कि प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।कल मंगलवार को सीएम योगी ने लखनऊ से अफसरों को निर्देश दिए।डीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार और प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद को मंगलवार को रामनगरी भेजा। प्रशांत कुमार और प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद लोगों से लाइन में लगकर दर्शन की अपील करते हुए नजर आए।भीड़ इतनी ज्यादा थी हर इंतज़ाम नाकाफी होते दिखा तो खुद सीएम योगी भी रामनगरी पहुंच गए। रामनगरी पहुंचते ही सीएम ने पहले हेलीकॉप्टर से हवाई सर्वे किया और फिर राम मंदिर में भीड़ को काबू करने के इंतजाम भी देखे।हवाई सर्वे के बाद सीएम योगी ने स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक कर श्रद्धालुओं की सुरक्षा, सुविधा और सहूलियत के लिए जरूरी इंतजाम करने को कहा।

अयोध्या में 8 हजार पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।डीएम ने 8 जगहों पर मजिस्ट्रेट तैनात कर दिए हैं।अयोध्या आने वाली सभी गाड़ियों को रोक दिया गया है।हाईवे पर जगह-जगह बैरिकेडिंग की गई है।रास्तों को अलग-अलग लाइन में बांटा गया है।दर्शन के लिए भक्तों को ग्रुप में छोड़ा जा रहा है।

रामनगरी में रामलला के दर्शन के लिए लाखों की संख्या में रामभक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा है,जिसे देखते हुए डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने अपील की है कि दर्शन के लिए जल्दबाजी न करें, आराम से आएं और दर्शन करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here