संविधान का सम्मान हमारी प्राथमिकता है अतः कथा हुई स्थगित : बागेश्वर पीठाधीश्वर

0
1978

कानपुर देहात, 17 अप्रैल । कानपुर देहात जनपद में होने वाली पांच दिवसीय हनुमत कथा धारा 144 के चलते स्थगित कर दी गई है। आगामी निकाय चुनाव के बाद फिर से इस कथा के होने के कयास लगाए जा रहे हैं। फिलहाल जिला प्रशासन और बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर ने सोमवार से होने वाली कथा पर विराम लगा दिया है। उन्होंने कहा कि संविधान उनके लिए प्राथमिकता रखता है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात जनपद में बहुचर्चित बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की पांच दिवसीय हनुमत कथा मैथा तहसील इलाके में 17 अप्रैल से 21 अप्रैल तक होना सुनिश्चित हुई थी। जिसको लेकर तैयारियां भी कर ली गईं थीं। जिला प्रशासन ने भी इस भव्य कथा के लिए अपनी कमर कस ली थी। जिसको लेकर लगातार जनपद की जिलाधिकारी नेहा जैन पुलिस अधीक्षक बीबीजीटीएस मूर्ति कथा स्थल का जायजा ले रहे थे। आयोजक सुनील शुक्ला और संयोजक प्रेस क्लब कानपुर के अध्यक्ष अवनीश दीक्षित ने भी आने वाले श्रद्धालुओं के लिए भव्य तैयारियां को अंतिम रूप दे दिया था। वहीं रविवार को अचानक पूरे प्रदेश में हुए हाई अलर्ट के बाद जिला प्रशासन द्वारा एक लेटर जारी किया जाता है कि कथा को कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया गया है। वहीं पूरा दिन बीत जाने तक आयोजकों और जिला प्रशासन द्वारा बातचीत में अंतिम में निर्णय लिया गया कि फिलहाल अभी इस कथा को स्थगित करना ही सही रहेगा। रविवार देर शाम जिलाधिकारी नेहा जैन ने इसकी पुष्टि करते हुए एक वीडियो जारी किया जिसमें उन्होंने साफ कर दिया कि कथा को स्थगित कर दिया गया है। वहीं बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र कृष्ण शाश्त्री का भी एक वीडियो आया जिसमे उन्होंने साफ कहा कि वह देश के संविधान का सम्मान करते हैं। मौजूदा समय मे उत्तर प्रदेश में चुनाव हैं और हालात सही नही हैं जिसके चलते धारा 144 को लगाया गया है। जिसके चलते उन्होंने कहा कि वह फिर आने वाले दिनों में हनुमान जी की कथा को वहां के श्रद्धालुओं को सुमिरन जरूर कराएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here